देवी देवताओं के पास हतियार क्यों

देवी देवता और उनके हथियारो पर एक छोटा सा लेख और मुझ अल्पज्ञानी का प्रश्न:-
1. राम - धनुष बाण
2. कृष्ण - चक्र
3. इंद्र -ब्रजस्त्र
4. गणेश- कुल्हाड़ी
5. दुर्गा - तलवार
6. काली - खंजर
7. हनुमान - गद्दा
8. शंकर- त्रिशूल
ये सब लोग हथियार क्यों रखते थे ?
इसका सीधा सा अर्थ है किसी को मारने के लिए या अपनी रक्षा करने के लिए।
मेरा प्रश्न यह है की यदि ये
किसी को मारने के लिए रखते थे तो ये महापापी हैं क्योकि ग्रंथो के अनुसार हिंसा करने वाला पापी ही होगा । और ये सुरक्षा के लिए रखते थे तो ये सर्वशक्ति मान नही हो सकते
क्योकि इन्हे भी किसी से डर लगता था और उससे सुरक्षा के लिए हथियार रखते थे ।
अब अन्य सम्प्रदायों के विचार प्रवतको को देखे तो:-
1. गौतम बुद्ध - कोई हथियार नही
2. मुहम्मद पैगम्बर - कोई हथियार नहीं
3. महावीर - कोई हथियार नहीं
4. ईसा मसीह - कोई हथियार नही
5. पेरियार नायकर- कोई हथियार नही
6. गुरु नानक देव-कोई हथियार नहीं
7.गुरु रविदास-कोई हथियार नही 
8-संत कबीर - कोई हथियार नहीं 
9-सिंबल आफ नॉलेज बाबासाहब डॉ अंबेडकर - कोई हथियार नहीं 
सभी अहिंसा के पुजारी थे। जो दया परोपकार करने पर जोर देते थे।
अब आप स्वयं निर्णय करे ???