मैं जेनयू मैं क्यों हुँ

मैं JNU क्यों हूँ!
मैं बोलता हूँ,
मैं गरीबी के खिलाफ बोलता हूँ,
मैं मनुवाद के खिलाफ बोलता हूँ,
मैं ब्राह्मण वाद के खिलाफ बोलता हूँ,
 
मैं JNU हूँ!
मैं सरकार के खिलाफ बोलता हूँ,
मैं लोगों के लिये बोलता हूँ,
मैं अपने लिए बोलता हूँ,


मैं JNU हूँ!
मैं उत्पीड़न के खिलाफ बोलता हूँ,
मैं आम आदमी के अधिकार के लिए बोलता हूँ,
मैं आजादी के लिए बोलता हूँ,


मैं नीला हूँ,
मैं लाल हूँ,
ना जानें क्या हूँ,
मैं JNU हूँ!


मैं राईट हूँ,
मैं लेफ्ट हूँ,
मैं बहुजन हूँ,
मैं JNU हूँ!


मुझे पसंद हैं आजादी!
जातिवाद से आजादी,
धर्मवाद से आजादी,
लिंगभेद से आजादी,
मनुवाद से आजादी,
अशिक्षा से आजादी,
बेरोजगारी से आजादी,
मैं JNU हूँ!


मैं आज हूँ,
मैं कल हूँ,
मैं भूत हूँ,
मैं भविष्य हूँ,
मैं JNU हूँ!


मैं इंकलाब-ए-आजादी हूँ,
मैं जसन्-ए-आजादी हूँ,
मैं इश्क़-ए-आजादी हूँ,
मैं JNU हूँ!


मैं आग हूँ,
मैं शोला हूँ,
मैं झरने से बहता पानी हूँ,
मैं JNU हूँ!


हां मुझे गर्व हैं मैं JNU हूँ!
मैं बोलता हूँ इसलिए ही मैं JNU हूँ!
सरकारें हमारे बोलने से डरती हैं इसलिए ही मैं JNU हूँ!


मैं बोलता रहा हूँ, बोलता रहूँगा, क्योंकि मैं JNU हूँ,✊


Dr. Sushil Gautam
Blue Panther's
मो. 9412552043