रेपिस्ट एक क्यों होता है

#शेयर_करना_ना_भूलें
इस देश में किन राजनेताओं से बहन,,बेटियों की सुरक्षा की भीख मांग रहे हो सभी एक जैसे है 


सत्तर साल हो गये संविधान को पूर्ण रूप से लागू भी नहीं कर रहे हैं उनसे बहन,बेटियों की सुरक्षा की आश छोड़ दो।।


किससे मांग रहे हो महिलाओं की सुरक्षा और कौन करेगा बहन बेटियों की सुरक्षा।


भारत में आखिर किससे करोगे सुरक्षा की मांग।


गाय को मां मानकर उसका पेशाब पीने वाले और रैप जैसी घटनाओं पर चुप रहने वाले योगी आदित्यनाथ से
जो कहता है गाय बचाना हमारा काम है लड़की बचाना नहीं।


अपनी पत्नि को छौड़ देने वाले और मन्दिर मस्जिद की बात करने वाले तथा रैप की घटनाओं पर चुप रहने वाले नरेन्द्र मोदी से


बलात्कार तो हमारी भारतीय संस्कृति का हिंसा है कहने वाली भाजपा सांसद किरण खैर से


बलात्कार जैसी छोटी मोटी घटनाएं होती रहती है केन्द्र सरकार अपना काम करे सोनिया गांधी से


राजस्थान को बलात्कार की श्रेणी मे 3 नम्बर पर पहुंचाने वाले अशोक गहलोत से


महिलाएं शॉर्टकट क्यूं पहनती गुजरात में ब्यान देने वाले राहुल गांधी से


रेप तो 80% लड़कियों की सहमती से होते हैं पहले तो मजे लूटती है बाद में ओपन हो जाने पर रेप का आरोप लगा देती है ऐसा कहने महनोहर खट्टर से।


रेप तो भारतीय संस्कृति का हिस्सा है इसे रोकना हमारे बस की बात नहीं है ऐसा कहने वाली भाजपा सांसद हेमा मालिनी से।


रेप के आरोपियों को बचाने के लिए तिरंगा यात्रा निकालने वाले जाहिल भाजपा विधायकों से।


कुलदीप सेंगर चिन्मयानंद जैसे बलात्कारियों को बचाने वाली भाजपा सरकार से।


रेप को धार्मिक रंग देने वाले जाहिल अंधभक्तों से जिन्हें रेप का आरापी भी हिन्दू मुस्लिम नजर आ रहा है।


रैप पीड़िता एफ आई आर दर्ज करवाने थाने में पहुंचने पर बलात्कार करने वाले पुलिस वालों से जो 5% रेप व गैंगरेप तो पुलिसथानों में होते है।


आये दिन लड़कियों को हवस की शिकार बनाने वाले दरोगा से


Sc St के लोग बच्चे है उनको बहला पुसलाकर समझा सकते हो कहने वाली सुमित्रा महाजन से।


चलती लड़कियों की कनपटी पर पिस्तौल रखकर जान से मारने की धमकी देने वाले कॉग्रेंसी सांसद के बेटे से


मैं पाकिस्तान में होती तो भारत पर बम गिरा देती कहने वाली ममता बनर्जी से


 Muslim Patrika
भारतराजनीती
विडियो: बीजेपी नेता का घटिया बयान, बलात्कार की घटनाओं के लिए जिम्मेदार है….
By patrika -  May 2, 2018


 (बीजेपी) के विधायक सुरेंद्र सिंह ने देश में बलात्कार की बढ़ती घटनाओं के लिए माता-पिता को दोषी ठहराया और सुझाव दिया कि इसे केवल युवा लड़कों और लड़की को स्मार्टफोन का उपयोग करने की अनुमति न दें कहने वालें से।


रेप का नेचर होता है, अब जैसे अगर कोई नाबालिग लड़की है, उसके साथ रेप हुआ है तो उसको तो हम रेप मानेंगे, 


लेकिन कहीं-कहीं पर ये भी सुनने में आता है कि विवाहित महिला है, उम्र 30-35 साल है. उसके साथ भी रेप हुआ. इस तरीके की तमाम घटनाएं होती हैं. 7 -8 साल से प्रेम प्रसंग चल रहा है. उसका अलग नेचर होता है. ऐसा कहने वाले योगी सरकार के मंत्री उपेंद्र तिवारी से


दावे के साथ कहने वाले कि भगवान राम भी आ जाएंगे तो इन रेप की घटनाओं पर नियंत्रण कर पाना संभव नहीं है भाजपा विधायक सुरेन्द्र सिंह से।


बैरोजगार युवा ही देश में महिलाओं व लड़कियों के साथ रेप करते हैं कहने वाले भाजपा विधायक गिरीराज सिंह से 


विधानसभा में बेठे बलात्कारी नेताओं से
संसद मे बैठे बलात्कारी नेताओं से


अपने धर्म की बच्ची पर आवाज उठाने वाले और दूसरे धर्म की बच्चीयों के रैप पर चुपी साधने वाले धर्म के ठेकेदारों से।


अस्लील फिल्मे बनाकर करोड़ों में जिस्म बेचने वाली बॉलिवूड की अभिनेत्रियों से।


एक भारतीय सैनिक पर ब्रुस्ट गुरने का आरोप लगाने वाली विद्या बालम से।


फूलन देवी व पद्मावत मूवी पर तालियां बजाने वाले लोगों से।


दलित महिला को नंगा करके सड़क पर घूमाने वाले कॉग्रेंसी पार्षद से


जिस्म फिरोती का धन्धा चलाने वाली भाजपा महिला नेत्री से


लड़कियों को होटलों में बुकींग करने वाले भाजपाई पार्षद व संसद नेताओं से!


बहूत से तथ्य है लिखते जावो तो Facebook की पोस्ट फर्शींग भर जायेगी मगर महिलाओं और बहन बेटीयों की सुरक्षा करेगा कौन किस सरकार से मांग कर रहै हो किस नेता से मांग कर रहै हो।


कोई नही इस भारत में महिला रक्षक नेता व सरकार की पार्टीयां। क्योंकि हर पार्टी का नेता बलात्कारी है इसलिए ही बलात्कार पर सभी पार्टियों के नेता चुपी साध लेते है।


खुद उतरो मैदान में सजाएं दरिंदों को खुद दो सामने आये तो जला डालो आगे भागे तो गौलियों से भून डालो मगर 


किसी से आस लगाकर बैठना मत वरना यह अदालते अखबार पुलिस वाले नेता वकील जज सब के सब सिक्कों में बिकने वाले है 


इनपर जितना भरोसा करोगे उतनी ही बेटीयां मरती रहेगी
😥😥😥😥😥😥😥😥😥😥😥😥😥
हरी राम मेघवाल
हरी राम मेघवाल


Popular posts
अमीर दलित दामाद रिश्तेदार और गरीब दलित नक्सली अछूत क्या गजब की पॉलिटिक्स है आज मै दोगली राजनीति से वाकिफ करवाता हूँ 
Image
गर्व से कहो हम शूद्र हैं
देश के अन्दर क्या परम्परा चल रही है जाने
Image
धर्मिक स्त्रियां धर्म के इन आदेशो को कितना सही मानती हैं ? आज भी समाज में विधवा स्त्री का बहुत ज्यादा सम्मान नहीं होता है ,अधिकतर विधवा स्त्री को अपशकुन ही समझा जाता है ।आप वृन्दावन सहित देश के बहुत से हिस्सों में विधवाओ के लिए बने आश्रमो में देख सकते हैं की उनकी क्या दुर्दशा होती है । इस बार वृंदावन में विधवाओ ने सैकड़ो साल की कुरीति तोड़ते हुए होली मनाई । अंग्रेजो के आने से पहले सती प्रथा समाज में कितनी प्रचलित थी यह बताने की जरुरत नहीं है , समाज में विधवा स्त्रियों को जला के उन्हें देवी मान लिया जाता था । समाज में विधवाओ के प्रति यह क्रूरता आई कैसे ?कौन था विधवाओं की दुर्दशा का जिम्मेदार ?जानते हैं - महाभारत के आदिपर्व में उल्लेख है की जिस प्रकार धरती पर पड़े हुए मांस के टुकड़े पर पक्षी टूट पड़ते है , उसी प्रकार पतिहीन स्त्री पर पुरुष टूट पड़ते हैं । स्कन्द पुराण के काशी खंड के चौथे अध्याय में कहा गया है "विधवा द्वारा अपने बालो को संवार कर बाँधने पर पति बंधन में पड़ जाता है अत:विधवा को अपना सर मुंडित रखना चाहिए। उसे दिन में एक बार ही खाना चाहिए वह भी काँसे के पात्र में , या मास भर उपवास रखना चाहिए । जो स्त्री पलंग पर सोती है वह अपने पति को नर्क डालती है , विधवा को अपना शरीर सुगंध लेप साफ़ नही करना चाहिये और न ही श्रंगार करना चाहिए । उसे मरते समय भी बैलगाड़ी पर नहीं बैठना चाहिए , उसे कोई भी आभूषण तथा कंचुकी नहीं पहननी चाहिए कुश चटाई पर सोना चाहिए और सदैव श्वेत वस्त्र पहनने चाहिए ।उसे वैशाख , कार्तिक और माघ मास में विशेष व्रत रखने चाहिए । उसे किसी शुभ कार्य में हिस्सा नहीं लेना चाहिए और हमेशा हरी का नाम जपना चाहिए । विधवा का आशीर्वाद विद्वजन ग्रहण नहीं करते मानो वह कोई सर्प विष हो । विधवाओं के प्रति यह आदेश धर्म का है , आज भी स्त्रियां ही सबसे अधिक धर्मिक प्रवृति की होती हैं ...यदि स्त्रियां धर्म का साथ छोड़ दें तो धर्म नाम की दुकान एक दिन में बंद हो जायेगी । तो आज की धर्मिक स्त्रियां, विधवाओं के प्रति धर्म के इन आदेशो को कितना सही मानती हैं ? - केशव (सजंय)..
Image
"ट्रेन की जंजीर" एक वृद्ध ट्रेन में सफर कर रहा था, संयोग से वह कोच खाली था। तभी 8-10 लड़के उस कोच में आये और बैठ कर मस्ती करने लगे। एक ने कहा, "चलो, जंजीर खीचते है". दूसरे ने कहा, "यहां लिखा है 500 रु जुर्माना ओर 6 माह की कैद." तीसरे ने कहा, "इतने लोग है चंदा कर के 500 रु जमा कर देंगे." चन्दा इकट्ठा किया गया तो 500 की जगह 1200 रु जमा हो गए. चंदा पहले लड़के के जेब मे रख दिया गया. तीसरे ने बोला, "जंजीर खीचते है, अगर कोई पूछता है, तो कह देंगे बूढ़े ने खीचा है। पैसे भी नही देने पड़ेंगे तब।" बूढ़े ने हाथ जोड़ के कहा, "बच्चो, मैने तुम्हारा क्या बिगाड़ा है, मुझे क्यो फंसा रहे हो?" लेकिन किसी को दया नही आई। जंजीर खीची गई। टी टी ई आया सिपाही के साथ, लड़कों ने एक स्वर से कहा, "बूढे ने जंजीर खीची है।" टी टी बूढ़े से बोला, "शर्म नही आती इस उम्र में ऐसी हरकत करते हुए?" बूढ़े ने हाथ जोड़ कर कहा, "साहब" मैंने जंजीर खींची है, लेकिन मेरी बहुत मजबूरी थी।" उसने पूछा, "क्या मजबूरी थी?" बूढ़े ने कहा, "मेरे पास केवल 1200 रु थे, जिसे इन लड़को ने छीन लिए और इस लड़के ने अपनी जेब मे रखे है।" अब टीटी ने सिपाही से कहा, "इसकी तलाशी लो". लड़के के जेब से 1200रु बरामद हुए. जिनको वृद्ध को वापस कर दिया गया और लड़कों को अगले स्टेशन में पुलिस के हवाले कर दिया गया। ले जाते समय लड़के ने वृद्ध की ओर देखा, वृद्ध ने सफेद दाढ़ी में हाथ फेरते हुए कहा ... "बेटा, ये बाल यूँ ही सफेद नही हुए है!" 😁😁😁😁😁😁 अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस की बधाई 🙏
Image